गर्मी की छुट्टी पर निबंध | Essay on Summer Vacation in Hindi

प्रस्तावना :

गर्मी की छुट्टी पर निबंध | Essay on Summer Vacation in Hindi : ग्रीष्म ऋतु भारत के मुख्य त्यौहार में से एक है। तीनो ऋतु अलग अलग प्रकृति की होती है जिसमे ग्रीष्म ऋतु को गर्मी की ऋतु कहा जाता है। ग्रीष्म ऋतु के मोके पर सभी बच्चो को स्कूल से एक छात्र पूरा होने पर पुरे महीने भर के लिए छुटिया मिलती है। इसी लिए बच्चो की सबसे प्रिय ऋतु ग्रीष्म ऋतु को माना जाता है।

निबंध 1

गर्मियों की छुट्टियों के बारे में सोच कर भी मन रोमांचित हो उठता है। मुझे गर्मियों की छुट्टियां बहुत पसंद है। हम बच्चे गर्मियों की छुट्टी हो के लिए साल भर इंतजार करते हैं। अभी बस कुछ दिनों बाद ही गर्मियों की छुट्टियां पड़ने वाली है। मेरे साथी सहपाठी इन गर्मियों की छुट्टियों पर पहाड़ और ठंडे विस्तार में जाने का आयोजन बना रहे हैं।

गर्मी की छुट्टी पर निबंध | Essay on Summer Vacation in Hindi
गर्मी की छुट्टी पर निबंध | Essay on Summer Vacation in Hindi

मैं किसी अन्य स्थान पर नहीं जा सकता हूं क्योंकि मेरे पिताजी को घर पर काम बहुत ज्यादा है। इसलिए मैं अपनी छुट्टियों को अच्छे कर्म करने में लगाऊंगा। और अब आखिरकार गर्मियों की छुट्टियों का दिन आ ही गया। स्कूल में गर्मियों की छुट्टियां हो गई हैं। अब मैं सुबह शाम अपने दोस्तों के साथ खूब खेलता हूं लेकिन घर में होने के कारण दोपहर का समय व्यर्थ हो जाता है। और बाहर खेल भी नहीं सकते हैं। हमें स्कूल में पढ़ाया गया था कि पेड़ों की संख्या कम होने के कारण गर्मी ज्यादा पड़ती है।

इसलिए मैं सोच रहा हूं कि इस बार की गर्मियों की छुट्टियों का सदुपयोग करके मैं मेरे दोस्तों के साथ मिलकर हम हमारे आसपास के क्षेत्र में पेड़ और पौधे लगाएं। जिससे पूरे का पूरा वातावरण हरा भरा हो जाए। और वहां का वातावरण स्वच्छ और सुंदर बना रहे। घर में की छुट्टियां उच्च तापमान होने के वजह से बच्चों को दी जाती है। गर्मी की छुट्टियों बचोको स्कूल और पढ़ाई से छुट्टी दी जाती है। इसलिए वह बहुत खुश हो जाते हैं।

निबंध 2

गर्मी की छुट्टियां छात्रों के लिए वर्ष की सबसे खुशी भरी अवधि होती है। यह लगभग डेढ़ महीने तक रहती है। मुझे यह सबसे ज्यादा पसंद है क्योंकि ग्रीष्म काल के गर्म दिनों में यह मुझे सूर्य की हानिकारक किरणों से नुकसान पहुंचने से बचाता है।

गर्मी की छुट्टी पर निबंध | Essay on Summer Vacation in Hindi
गर्मी की छुट्टी पर निबंध | Essay on Summer Vacation in Hindi

वास्तव में मैं अपने प्यारे माता पिता और भाई बहन के साथ पूरे गर्मी की छुट्टियां का आनंद लेता हूं। गर्मी की छुट्टियों के दौरान छात्रों को नए स्थानों पर जाने उनके सामान्य ज्ञान को बढ़ाने स्कूल के प्रोजेक्ट वर्क के लिए समय प्राप्त करने का अवसर मिलता है। की छुट्टियों का सदुपयोग मैं अपने कमजोर विषयों के बेहतर बनाने के लिए ट्यूशन कक्षाओं में भी शामिल होता हूं।

मैं अपने देश के नए स्थानों पर जाकर अपनी गर्मी की छुट्टियों का आनंद लेता हूं। हम मेरे गांव पर अपने प्यारे दादा दादी से मिलने जाहते हैं। मुझे उनके साथ समय बिताना अच्छा लगता है। वे अपने खेतों में काम करते हैं तथा हमारे लिए ताजा फल और सब्जियां खाने के लिए लाते हैं। उसके साथ साथ में क्रिकेट खेलना पसंद करता हूं। जबकि मेरे दोस्त गर्मी की छुट्टियों के दौरान फुटबॉल वह लड़कियां बैडमिंटन व बास्केटबॉल आदि खेलना पसंद करती है। हम सब मिलकर पहले से ही गर्मियों की छुट्टियों का आयोजन बना लेते हैं।

निबंध 3

मैंने इस साल गर्मियों की छुट्टियों का पूरा आनंद लिया है। इस समय के दौरान में स्कूल के दिनों से मुक्त होकर मैं काफी खुश था। मैंने स्कूल के सभी व्यस्त कार्यों को और घर की दैनिक और जनों को पहले से ही भुला दिया था। मेरे माता पिता ने मुझे आश्चर्यचकित करने के लिए इस योजना को मुझसे छुपाया और जब मुझे गर्मी की छुट्टियों के आयोजन बताए गए तो मैं वास्तव में आश्चर्यचकित हो उठा।

गर्मी की छुट्टी पर निबंध | Essay on Summer Vacation in Hindi
गर्मी की छुट्टी पर निबंध | Essay on Summer Vacation in Hindi

दरअसल यह भारत के सभी सांस्कृतिक विरासत और सुंदर पर्यटन स्थलों के लिए एक लंबा दौर था। मैंने अपने स्मार्टफोन में माता पिता वह भाई बहन के साथ सभी यादगार लम्हे को कैद कर लिया है। उनकी अच्छी गतिविधियों की फोटो क्लिक कर ली जैसे तोरा की ठंडी प्राकृतिक हवा में सुबह भरी पर टहलते हुए , ऐतिहासिक स्मारक को पुरानी धार्मिक मूर्तियों , मैदान में फुटबॉल खेलना , विभिन्न धर्मों के लोगों से मुलाकात आदि। भारतवर्ष में ग्रीष्म ऋतु मार्च के आरंभ से होती है और जून तक रहती है। यह रितु सारे रूपों में से सबसे लंबे समय तक चलने वाली ऋतु है।

ग्रीष्म ऋतु में दिन बटे और रात छोटी हो जाती है। गर्मी के मौसम में नदियां, तालाबों और सिलो आदि का पानी सूख कर कम होने लगता है। गर्मी के मौसम मैं चलने वाले हवा को “लू” कहते हैं।

गर्मी की छुट्टी पर निबंध | Essay on Summer Vacation in Hindi
गर्मी की छुट्टी पर निबंध | Essay on Summer Vacation in Hindi

सभी लोग अपने अपने घरों में फुलर व एयर कंडीशनर व पंखा लगा देते हैं । ग्रीष्म ऋतु में आम, तरबूज, खीरा, खरबूजा, आदि रसीले फल भी मिलते हैं। गर्मी के दिनों में हमारे स्कूल की छुट्टियां रहती है। गर्मी के दिनों में शरीर में पानी की कमी होने का खतरा बढ़ जाता है और लू लग जाती है। गर्मी के दिनों में जगह-जगह ठंडे पानी और गन्ने के जूस के टोल लगे रहते हैं।

निबंध 4

किसी ने सच ही कहा है की स:परिवर्तन में ही वास्तविक आनंद होता है। मनुष्य जब एक ही कार्य को लगातार करता है तो कुछ समय बाद उसकी ऊर्जा का रहस्य होना प्रारंभ हो जाता है।

कार्य की एक रास्ता के कारण उसके जीवन में नीरसता घर कर लेती है। स्थितियों में छुट्टी का दिन उसके लिए बहुत महत्वपूर्ण हो जाता है क्योंकि उससे उसके शरीर और मस्तिष्क दोनों को ही आराम मिलता है तथा मन मस्तिष्क में एक नवीन स्फूर्ति व नव चेतना का संचार होता है। मनुष्य विभिन्न अवसर व समय के अनुसार लघु एवं दीर्घकालीन छुट्टियों का आनंद लेता है।

गर्मी की छुट्टी पर निबंध | Essay on Summer Vacation in Hindi

सप्ताह में एक दिन होने वाला अनिवार्य अवकाश लघु कालीन होता है तथा किसी पर्व वह स्वेच्छा से कई दिनों तक लिया गया हु का दीर्घकालीन अवकाश होता है। छात्रों के लिए परीक्षा के पश्चात होने वाला ग्रीष्म अवकाश दीर्घ अवकाश होता है। छुट्टियों अथवा अवकाश का उपयोग सभी लोग अपनी अपनी सुविधाओं के अनुसार करते हैं।

सप्ताह में 1 दिन का होने वाला अवकाश प्राय इस सप्ताह के अन्य दिनों में कार्य करने से उत्पन्न नीरसता को समाप्त करता है। इस दिन वे सभी कार्य किए जाते हैं जो अन्य दिनों की व्यवस्था के फलस्वरूप नहीं हो पाते हैं। कुछ दिन लोग इसे अपने परिवार के साथ व्यतीत करना पसंद करते हैं वहीं अन्य लोग इस दिन के समय को अपने अन्य विकास कार्यों में साथ ही मनोरंजन अच्छा परिजनों से मिलने आदि का रखते हैं । कुछ छात्र सप्ताह के छूटे अपने कार्य को पूरा करके स्वयं को अन्य छात्रों के साथ चलने हेतु तैयार करते हैं।दीर्घकालीन छुट्टियां भी मनुष्य के लिए अनेक रूपों में उपयोगी होती है। इन छुट्टियों के मध्य पढ़ने वाले त्योहारों का भरपूर आनंद उठाते हैं।

त्योहार लोगों में धार्मिक भावना के साथ ही साथ परस्पर मेल भाईचारा बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। को एक सूत्र में पिरोए रखने में इन त्योहारों की अहम भूमिका है। लंबी छुट्टियों में कुछ लोग अपने घर की सांप सच्चा पर ध्यान केंद्रित करते हैं तो कुछ लोग बागवानी आदि पर ध्यान देते हैं।

निबंध 5

बाग बगीचे लगाना आज के समय में एक सामाजिक कार्य है जिसे प्राकृतिक सौंदर्य में बढोत्तरी होती है साथ ही साथ प्रदूषित वायु भी स्वच्छ होता है। कुछ लोग छुट्टियों में देशाटन अथवा किसी ऐतिहासिक व मनोरंजन स्थल पर घूमने हेतु जाते हैं। देशाटन से मनुष्य को दूसरे स्थानों पर रहने वाले लोगों के रहन सहन, खानपान, वेशभूषा आदि की जानकारी मिलती है।

गर्मी की छुट्टी पर निबंध | Essay on Summer Vacation in Hindi
गर्मी की छुट्टी पर निबंध | Essay on Summer Vacation in Hindi

इसके अतिरिक्त परिवर्तन से अनेक मन मस्तिष्क में एक नई स्फूर्ति व चेतना जागृत होती है। देशाटन से बच्चों के मस्तिष्क पर अनुकूल प्रभाव पड़ता है। छुट्टियों मैं कई विद्यालयों के अध्यापक अपने छात्रों को किसी ऐतिहासिक स्थल, चिड़ियाघर, संग्रहालय अथवा किसी पुस्तक व शिक्षा मेले आदि में ले जाते हैं। जिससे उन्हें उस के संदर्भ में जानकारी प्राप्त हो सके।

इसके अतिरिक्त कुछ विद्यालयों सेवा कैंप लगाने हेतु छात्रों को प्रोत्साहित करते हैं जिसमें छात्र गण स्वेच्छा से सामाजिक कार्यों में श्रम एवं ज्ञान का दान करते हैं। वे लोगों को स्वच्छता की जानकारी देते हैं तथा निर्धन बच्चों को शिक्षा प्रदान कर ज्ञान ज्योति फैलाते हैं। इससे छात्रों में सेवा का भाव जागृत होता है। राष्ट्रपिता बापू के अनुसार भी छुट्टियों का सबसे अच्छा उपयोग यह है कि इस समय को लोग समाज व राष्ट्र की सेवा में समर्पित कर दें।

आज के महानगरीय जीवन की व्यस्तता ए व्यक्तियों को निरंतर कार्य करते रहने के कारण तनाव व थकान से भर देती है। ऐसे में छुट्टियां बहुत आवश्यक हो जाती है क्योंकि यही एकमात्र साधन है जो यहां के लोगों को कुछ राहत दे सकता है। लोग इच्छित ढंग से जीवन जीकर स्वयं को तनाव मुक्त कर सकते हैं। निसंदेह छुट्टियां सभी के लिए अनिवार्य है। छुट्टियों में मनुष्य अपनी सामान्य दिनचर्या से हटकर वह कार्य कर सकता है जिससे उसका आत्मा विकास संभव है।

देशाटन आदि से उसे नए-नए स्थलों व लोगों के बारे में जानकारी प्राप्त होती है। उसके मन मस्तिष्क में नवीन चेतना व स्फूर्ति का संचार होता है जिससे उसकी कार्यक्षमता अन्य लोगों की तुलना में बहुत बढ़ जाती है। अतः छुट्टियां चाहे दीर्घ अवधि की हो अथवा अल्पावधि की इनकी उपयोगिता हमेशा बनी रहेगी।

संबंधित जानकारी :

ग्रीष्म ऋतु पर निबंध

मेरा नाम निश्चय है। में इसी तरह की हिंदी कहानिया , निबंध , कविताए , भाषण और सोशल मीडिया से संबंधित आर्टिकल लिखता हु। यह आर्टिकल गर्मी की छुट्टी पर निबंध | Essay on Summer Vacation in Hindi अगर आपको पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और हमे फेसबुक , इंस्टाग्राम आदि में फॉलो करे।

इस आर्टिकल की इमेज गूगल और pinterest से ली गई है।

धन्यवाद❤️

Leave a Comment