भारतीय संस्कृति पर निबंध | Indian Culture Essay in Hindi

प्रस्तावना :

भारतीय संस्कृति पर निबंध | Indian Culture Essay in Hindi : सभी जगह यानि पुरे विश्व में भारतीय संस्कृति और परंपरा जैसी खुमारी किसी और में नहीं। भारत देश की सभ्यता और संस्कृति सबसे प्राचीन है। भारतीय संस्कृति के मूल संवाद , भाषाए , परंपरा , धार्मिक रूढ़ि , मान्यताए आदि है। कई प्रकार की शैली यहाँ पर आज भी मौजूद है। भारतीय संस्कृति के बारे में अहम जानकारी इस निबंध के जरिये प्रस्तुत करते है।

निबंध 1 (200 शब्द)

हमारे देश कि प्रकृति और भौतिक दोनो ही प्रकार से विश्व का एक अद्भुत और अनोखा राष्ट्र है। इस देश की संस्कृति और कला, सभ्यता और आचरण सभी कुछ इस विवेश्ता को उच्चकोटि की बनाने में सफल और सहायक है। हमारे देश की कला और संस्कृति विश्व की प्राचीन संस्कृति और कलाओं में से एक है।

हमारी कलाए ही इस तथ्य का प्रमाण देती है की हमारे शासक और राष्टनायक भी अपनी संस्कृति और कला के ही सहायक और हिमायत रहे है। उन्होंने अपने शान वैभव मिटने या कुल खुशरित होने की बिलकुल भी चिंता नहीं की। और उन्होंने अपनी कला संस्कृति की बढ़कर चिंता की।

भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi
भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi

भारतीय ने मुस्लिम संस्कृति और कला को अपनाकर उसे ऐसा अद्भुत रूप दिया है की यह हर विदेशी के लिए मनमोहक केंद्र बन चुका है। फतेहपुर सीकरी, आगरा का ताजमहल, मांडू के प्रसिद्ध किले में स्थित हिंडोला महल, जहाज महल, जबलपर, खजुराहो, उज्जैन, पंचमढ़ी, अजंता इलोरा की गुफा और मूर्तियां आदि हमारी कला के सर्वोत्तम उदाहरण है।

भारतीय कला के अंतर्गत आनेवाली नृत्य–संगीत, नाटक, साहित्य, प्रदेशी खेल आदि हैं। कत्थक नृत्य, मणिपुर नृत्य, भांगड़ा, भरतनाट्यम, घूमर, गरबा आदि हमारे देश की नृत्य कला की विशिष्ट कोटिया है।

हमारे देश की सभ्यता और संस्कृति विश्व के प्राचीन देशों यूनान, मिश्र, रोम से कम नहीं। लेकिन पराधीनता के कारण अपनी अपनी सभ्यता और संस्कृति को आज खो चुके है। भारत का नागरिक विदेशी खान–पान, रहन–सहन, बोलचाल, दर्शन आदि को अपनाने की कला ले जितना तेज और कुशल है। इतनी विदेशी कला नही हो सकती।

निबंध 2 (250 शब्द)

पूरे विश्व भर मे भारतीय संस्कृति बहुत प्रसिद्ध है I पूरे विश्व में रोचक और प्राचीन संस्कृति के रूप मे इसे देखा जाता है I अलग अलग धर्मों, परंपराओं, भोजन, वस्त्र आदि से संबंधित लोग यही हमारे भारत में एक साथ रहते है I विभिन्न और परंपरा के रह रहे लोग यहा सामाजिक रूप से स्वतंत्र है इसी वजह से धर्मों की विविधता में एकता के मजबूत सबंधों का यहा अस्तित्व हैI

भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi
भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi

अलग परिवारों, जातियों, उप जातियों और धार्मिक समुदाय में जन्म लेने वाले लोग एकसाथ शांतिपूर्वक एक सामुह में रहते है I यहा लोगों का सामाजिक जुड़ाव लंबे समय तक रहता है I अपनी तारतम्यता और सम्मान की भावना इज़्ज़त और एक दूसरे के अधिकार के बारे मे अच्छी भावना रखते है I अपनी संस्कृति के लिए भारतीय लोग अत्याधिक समर्पित रहते है और सामाजिक संबंधों को बनाए रखना अच्छे से जानते है I भारत में विभिन्न धर्मों के लोगों की विभिन्न परंपराएं होती है, उनके अपने त्योहार और मेले होते है, जिसे उन्हें अपने तरीके से मनाने का अधिकार है I

लोग विभिन्न भोजन संस्कृति जेसे पोहा, जलेबी, आमलेट, सांभार, इडली, मिठाइयाँ, पनीर, सरसों, फाफडा आदि का अनुसरण करते है I दूसरे धर्म के लोगों की कुछ अलग भोजन संस्कृति होती है और लोग आपस में एक दूसरे की सभी रीति रिवाजों और भोजन का सम्मान और आदर करते है I

भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi
भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi

भारतीय संस्कृति में कयी अलग अलग धर्मों के लोग एक दूसरे के साथ और एक दूसरे के रीतिरिवाज का मान और सम्मान देकर एक दूसरे के प्रति प्रेमभावना का उदाहरण देते है I इसलिए हम कह सकते है कि भारतीय संस्कृति में विविधता में भी एकता है I

निबंध 3 (350 शब्द)

पूरे विश्व में भारत अपनी संस्कृति और परंपराओं के लिए प्रसिद्ध देश हैं I यहा की संस्कृति लगभग ५००० साल पुरानी है जो कि सबसे प्राचीन संस्कृति में से एक है I भारत विभिन्न संस्कृतियों और परंपराओं की भूमि है I विविधता में एकता का कथन यहा पर आम है अर्थात भारत एक विविधतापूर्ण देश है जहा विभिन्न धर्मों के लोग अपनी संस्कृति और परंपराओं के साथ शांतिपूर्ण तरीके से एकसाथ रहते है I

हमारे देश भारत की ये महान संस्कृति है कि हम बहुत खुशी के साथ अपने घर आए मेहमानों की सेवा करते है क्योंकि क्योंकि भारतीय संस्कृति में कहा गया है कि ” अतिथि देवो भव: ” अर्थात हमारे लिए घर आए अतिथि भगवान समान है I भारतीय संस्कृति की सबसे बड़ी विशेषता उसकी परम उदारता और सहिष्णुता है I भारतीय संस्कृति में संस्कारों को विशेष मह्त्व दिया गया है I

भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi
भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi

बड़ो के लिए आदर और श्रद्धा भारतीय संस्कृति का एक महत्वपूर्ण सिद्धांत है I भारत मे युवाओ द्वारा अपने बड़ो के प्रति महान सम्मान दिया जाता है I प्रतिदिन प्रात:काल को और विशेष रूप से उत्सवों के अवसर पर या महत्वपूण्र कार्य शुरू करने से पहले बड़ो के पैरों को छूकर उनका आशीर्वाद लिया जाता है I

हम अपनी भारतीय संस्कृति का बहुत सम्मान और आदर करते है I भारत की सामाजिक व्यवस्था महान है I जहा लोग आज भी संयुक्त परिवार के रूप मे अपने दादा-दादी, चाचा, चचेरे भाई-बहन आदि के साथ घुलमिल कर शांतिपूर्ण तरीके से रहते है I इसीलिए यहा के लोग जन्म से ही अपनी संस्कृति और परंपराओं के बारे मे सीख जाते है I

भारत एक धर्मनिरपेक्ष देश है जिसका अर्थ है कि भारत मे मौजूद सभी धर्मों के लोगों द्वारा सभी धर्मों को एक सम्मान मिलता है I भारत मे आनंद और उमंग के साथ सभी धर्मों के और विभिन्न त्योहार मनाए जाते है I अलग-अलग लोग अपने धर्म, जाति और संस्कृति के अनुसार विभिन्न त्योहार मनाते है I

भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi
भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi

भारत की संस्कृति में सबकुछ है जेसे विरासत के विचार, लोगों की जीवन शैली, अलग-अलग मान्यता, अलग-अलग रीतिरिवाज, मूल्य, आदतें, परवरिश, विनम्रता, ज्ञान आदि I इसलिए हम भारत को विभिन्नता में एकता का देश कहते है और यही सब बाते भारत की प्राचीन संस्कृति को महान संस्कृति बनाती है I

निबंध 4 (500 शब्द)

पूरे विश्व में भारत अपनी संस्कृति और परंपराओं के लिए प्रसिद्ध देश है I यह विभिन्न संस्कृति और परंपराओं की भूमि है I विभिन्न संस्कृतियों और परंपराओं के लोगों के बीच की धनिष्ठा ने एक अनोखा देश भारत बनाया है I भारतीय संस्कृति विश्व की सबसे प्राचीन संस्कृति है I जो लगभग ५००० वर्ष पुरानी है I किसी देश या समाज के परिष्कार की सुदीर्घ परम्परा होती है I

संस्कृति शब्द संस्कार से बना है I संस्कृति का शाब्दिक अर्थ है ” सुधारने वाली या परिष्कार करने वाली ” I डॉ नागेन्द्र ने लिखा है कि – संस्कृति मानव जीवन की वह अवस्था है जहा उसके प्राकृत राग द्वेष का परिमार्जन हो जाता है I इस तरह जीवन को परिष्कृत एवं सम्पंन करने के लिए मूल्यों, स्थापनाओं और मान्यताओं का सामुह संस्कृति है I किसी देश की संस्कृति अपने आप ने समग्र होती है एवं परिवर्तनशील होती है I

भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi
भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi

सभ्यता को शरीर एवं संस्कृति को आत्मा कहा गया है I क्योंकि सभ्यता का अभिप्राय मानव के भौतिक विकास से है जिसके अंतर्गत किसी परिष्कृत एवं सभ्य समाज की वे स्थूल वस्तुएँ आती है I जो बाहर से दिखाई देती है I जिसके संचय द्वारा वह औरों से अधिक उन्नत एवं उच्च माना जाता है I उदाहरणार्थ रेल, मोटर, सड़क, वायुयान, वेषभूषा आदि I संस्कृति के अंतर्गत वे अंतरिक्ष गुण होते है जो समाज के मूल्य व आदर्श होते है I

जेसे सौजन्यता, सहानुभूति, विनम्रता और सुशीलता आदि I हमारे देश मे शक, हण, यवन, मुगल, अंग्रेज़, हबशी जेसी कितनी ही जातियां एवं प्रजातियां आयी किन्तु सभी भारतीय संस्कृति में एकाकार हो गई I डॉ गुलाबराय के विचारों में भारतीय संस्कृति में एक अटूट एकता है I इतना सम्मिश्रण होते हुए भी वह अपने मौलिक एवं परिवर्तित रूप मे विद्यमान है I भारतीय संस्कृति को मुलभावना ” वसुधैव कुटुम्बकम ” के पवित्र उदेश्य पर आधारित है I

भारतीय संस्कृति कटी विशेषता से युक्त है I ईन विशेषता के कारण वह जिवित है उनमे कुछ प्रमुख है I भारत में मुख्य १७ भाषाई बोली जाती है जिसका अपने राज्य और क्षेत्र के अनुसार अलग की महत्व और मिठास है। भारतीय भाषा में तमिल सबसे पुरानी भाषा है और बंगाली भाषा साहित्य में समृद्ध है। भारत के सभी राज्यों में एक ही प्रकार त्योहार मनाए जाते है परंतु सबके मानने के तरीके अलग–अलग होते है।

गुरु का सम्मान भी हमारी संस्कृति का ही एक रूप कहा जा सकता है। भारतवर्ष में शुरू से ही गुरु का सम्मान किया जाता है। गुरु द्रोणाचार्य के मांगने पर एकलव्य ने अपने हाथ का अंगूठा दान में दे दिया था। भारतीय संस्कृति के अनुसार गुरु का स्थान और सम्मान भगवान से भी बढ़कर है। बड़ो के लिए आदर और श्रद्धा भारतीय संस्कृति का सबसे बड़ा सिद्धांत है। बड़े खड़े हो तो उनके सामने न बैठना, बड़ो के आने पर अपना स्थान छोड़ देना, उनको सबसे पहले खाना परोसना जैसी क्रियाओ को अपनी दिनचर्या में देखा जा सकता है। जो हमारी संस्कृति का एक अभिन्न अंग है।

भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi
भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi

जब हम भारतीय संस्कृति की चर्चा करते है तो हमारा तात्पर्य उस सस्कृति से होता है जिसका जन्म भारत में हुवा था तथा जो युगों से भारत के विभिन्न भागों में पनपीन तथा विकसित होती आ रही है। दूसरे शब्दों में इस हम हिंदू सस्कृति भी कहते है।

इस देश धर्म और संस्कृति का गहरा संबंध है। इसलिए धर्म के शिक्षको एवं आचार्य ने भारतीय–संस्कृति और उसके विभिन्न रूपों का विशेष रूप से प्रभावित किया है। भारतीय संस्कृति में मानव जीवन के विभिन्न पहलुओं का व्यापक रूप मिलता है। संसार के किसी भी अन्य धर्म या जाति में जीवन की ऐसी विविधता या व्यापकता दिखाई नहीं पड़ती है।

  • आध्यात्मिकता :

अध्यात्म भारतीय संस्कृति का प्राण है I अर्थ, कर्म, काम, मोक्ष ईन चार पुरूषार्थ को महत्व दिया गया है I

  • सहिष्णुता :

सहिष्णुता की भावना को भारतीय संतों ने प्रसारित किया है I

  • कर्मवाद :

भारतीय संस्कृति ने सदेव कर्म करने की प्रेरणा दी है I गीता में कहा गया ” कर्मण्येवाधिकारस्ते माँ फलेशुकदचन् “

  • विश्व बंधुत्व की भावना :

भारतीय संस्कृति सारे विश्व को एक कुटुंब मानते हुए समस्त प्राणियों के प्रति कल्याण, सुख एवं आरोग्य की कामना करती है I

  • गुरु की महत्ता :

भारतीय संस्कृति में गुरु को इश्वर से भी उपर का दर्जा दिया गया है I गुरु को अंधकार का नाश करने वाला दीपक बताया गया है I

संस्कारों को विशेष महत्व दिया गया है I

शिक्षा के मह्त्व को स्वीकारते हुए भारतीय संस्कृति में इसे चारित्रिक, मानसिक, नैतिक तथा आध्यात्मिक विकास करने वाली माना है I

भारतीय संस्कृति एक महान जीवन धारा है I जो प्राचीन काल से सतत प्रवाहित है I इस तरह से भारतीय संस्कृति स्थिर एवं अद्वितीय है I जिसके संरक्षण की जिम्मेदारी वर्तमान पीढ़ी पर है I इनकी उदारता और समन्यवादी गुणों ने अन्य संस्कृति को समाहित तो किया है लेकिन अपने अस्तित्व के मूल को सुरक्षित रखा है I एक राष्ट्र की संस्कृति उनके लोगों के दिल और आत्मा में बस्ति है I सर्वागिणता, विशालता, उदारता और सहिष्णुता की द्रष्टि से अन्य संस्कृति की अपेक्षा में भारतीय संस्कृति अग्रणी स्थान रखती है I

निबंध 5 (600 शब्द)

भारतीय संस्कृति विश्व की प्राचीन एवं महान संस्कृति है जिसकी मिसाल पूरी दुनिया में दी जाती है। भारतीय संस्कृति सर्वाधिक संपन्न और समृद्ध है और अनेकता में एकता ही इसकी मूल पहचान है। भारत ही एक ऐसा देश है जहा एक से ज्यादा जाति, धर्म, समुदाय, लिंग ,पंथ आदि के लोग मिलजुल कर रहते है। और सभी अपनी अपनी परंपरा और रीत–रिवाज का पालन करने के लिए स्वतंत्र है

भारतीय संस्कृति विश्व की सर्वाधिक प्राचीन एवं समृद्ध संस्कृति है। इस विश्व की सभी संस्कृतियों की जननी माना जाता है। जीने की कला हो या विज्ञान और राजनीतिक का क्षेत्र, भारतीय संस्कृति का विशेष स्थान रहा हैं। अन्य देशों की संस्कृतियां समय के साथ नष्ट होती रही है, किन्तु भारत की संस्कृति आदि कला से ही अपने परंपरागत अस्तित्व के साथ अजर अमर बनी हुई है।

भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi
भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi

संस्कृति किसी भी देश, जाति और समुदाय की आत्मा होती हैं। संस्कृति से ही देश, जाती या समुदाय के उन समस्त संस्कारों का बोध होता है जिनकी सहारे वो अपने आदर्शों और जीवन मूल्यों आदि का निर्धारण करते है। संस्कृति का अर्थ होता है,संस्कार, सुधार, परिष्कार, शुद्धि, सजावट आदि। भारत के लोग “वासुदेव कुटुंबकम” पर विश्वास रखते हैं। यानी सभी को मिलजुल कर रहना। भले ही भाषा और रंग–रूप अलग हो पर आखिर में सभी भारतीय हैं।

इस बार में कोई संदेह नहीं की भारतीय संस्कृति इस पृथ्वी की सबसे अलग और बड़ी संस्कृति है। इसका सबसे बड़ा कारण है भारत में बसे विभिन्न धर्मों, संस्कृतियों, भाषाओं, और राज्य के लोग। हर किसी क्षेत्र का अलग रहन–सहन और नैतिकता है। विभिन्न प्रकार के लोग होने के बावजूत भारत अनेकता में एकता का सबसे बड़ा उदाहरण है। भारत में किसी भी राज्य का व्यक्ति किसी भी राज्य में जाकर आसानी से कम कर सकता है या वहा रह सकता है।

भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi
भारतीय संस्कृति निबंध | Indian Culture Essay in Hindi

विश्व की सबसे बड़ी पौराणिक कथाई रामायण महाभारत के बारे में कोन नही जानता? सही में भारतीय सभ्यता अनंत है। किसी महान भारतीय सभ्यता को देखने के लिए विश्व भर से लोग प्रतिवर्ष भारत आते है। हम लोग इसी सभ्यता को समझने के लिए महान कुंभ मेले से लेकर भारत के प्राचीन मंदिरों का दर्शन लेते है। क्या आप को नही लगता इसे देश में जन्म लेना हमारे लिए गर्व की बात है ?

भारत के लोगो की मुख्य भाषा हिंदी है जिसे आज विश्व भर में मुख्य भाषा के रूप में जाना जाता है।

संबंधित जानकारी :

भारत पर निबंध

मेरा नाम निश्चय है। में इसी तरह की हिंदी कहानिया , निबंध , कविताए , भाषण और सोशल मीडिया से संबंधित आर्टिकल लिखता हु। यह आर्टिकल भारतीय संस्कृति पर निबंध | Indian Culture Essay in Hindi अगर आपको पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और हमे फेसबुक , इंस्टाग्राम आदि में फॉलो करे।

इस आर्टिकल की इमेज गूगल और pinterest से ली गई है।

धन्यवाद❤️

Leave a Comment