सर्कस पर निबंध | Essay on Circus in Hindi

प्रस्तावना :

Essay on Circus in Hindi : सर्कस एक एंटरटेनमेंट एवं मनोरंजन का साधन है। जिसको देखना बच्चे से लेकर बड़े तक पसंद करते है। सर्कस में सभी लोग विविध प्रकार के कार्य कर लोगो का मनोरंजन करते है। जिसमे कई जानवर भी शामिल होते है।एक निबंध रूप में इसकी जानकारी दी गई है।

निबंध 1 (250 शब्द)

सर्कस मनोरंजन का साधन है। इसे किसी भी आयु वर्ग के लोग पसंद करते हैं। सर्कस देखने से ज्ञान भी प्राप्त होता है। सर्कस में आदमी औरत पशु पक्षी और बच्चे सभी विभिन्न प्रकार के कर्तव्य दिखाते हैं।

इसी प्रकार का एक सर्कस लाल किले के मैदान में लगा सौभाग्य से हमें सर्कस देखने का अवसर मिला हम टिकट खरीद कर जैसे ही अंदर प्रवेश किए वैसे ही सर्कस की घंटी बज गई हम अपने सीटों पर बैठ गए सर्कस के प्रांगण में जो कर खड़े थे।

सर्कस पर निबंध | Essay on Circus in Hindi
सर्कस पर निबंध | Essay on Circus in Hindi

जैसे ही सर्कस प्रारंभ हुआ तो कुछ लड़के और लड़कियों ने अपने विभिन्न प्रकार के करतब और कसरत दिखाने लगे एक व्यक्ति मौत के कुएं में मोटरसाइकिल चला कर दिखाया कुछ ही देर बाद जानवरों के करतब का कार्यक्रम प्रारंभ हुआ सर्कस के लड़कियों ने झुलो पर झूला झूल कर झूलो को बदल बदल कर बहुत अच्छा प्रदर्शन किया रस्सी पर चलने के कार्यक्रम बहुत ही रोमांचक था।

एक हाथी अपने पिछले पैरों पर खड़ा हो गया एक व्यक्ति की छाती पर एक पटरा बिछाया गया और हाथी उस पर चलकर गया दूसरे हाथी ने साइकिल चला कर दिखाइए उसके बाद का कार्यक्रम शेर और उसके साधन वाले का था। पीला कार्यक्रम जो करता था। जो कर अपने चेहरे के रंग के साथ आए और उनके मजाकिया चेहरों ने बच्चों को खूब हंसाया जोकर के हरकतों ने सभी को खूब हंसाया लोगों के अनेक मनोरंजन के साधनों में से एक है। सर्कस में आदमी औरत पशु पक्षी तथा बच्चे भिन्न भिन्न प्रकार से अपने करतब दिखाते हैं। इसी प्रकार एक सर्कस अपोलो सर्कस लाल किले के मैदान में लगा हुआ था।

निबंध 2 (300 शब्द)

छुट्टियों में एक विशाल सर्कस हमारे शहर में आया जिसके नाम रॉयल सर्कस था। मैंने सर्कस के बारे में बहुत कुछ सुना था। लेकिन इससे पहले किसी भी सर्कस का दौरा नहीं किया था। मैंने पापा और मम्मी से सर्कस में चलने की जिंदगी में तब 6 साल का था 25 मई की शाम सपरिवार सर्कस देखने के लिए यूनिवर्सिटी मैदान पहुंचे जहां सर्कस लगा हुआ था।

सर्कस पर निबंध | Essay on Circus in Hindi
सर्कस पर निबंध | Essay on Circus in Hindi

सर्कस एक बहुत विशाल तंबू में लगा हुआ था। जो चमकीले झालरों से चारों तरफ से उजाया गया था। मैं बहुत उत्साहित था जल्दी ही हमने सर्कस टैंक में प्रवेश किया हम अंदर गए और देखा कि वहां दर्शकों की भीड़ थी। लाउडस्पीकर पर फिल्म गीत बजे रहे थे। हमारे बेचने का स्थान उसकी हाथी बिगड़ी सर्कस का कार्यक्रम प्रारंभ हो गया। और दर्शक मंत्रमुग्ध होकर देखने लगे सबसे पहले दो जो कराएं चेहरे रंगों से पूते हुए थे। दोनों ने अपनी मजाकिया हरकतों और बातों से सब को हसाया। कहीं लड़कियों ने एक दूसरे पर खड़े होकर एक बहुत ऊंचा पिरामिड बनाया।

फिर साईकिल पर कई हैरतअंगेज कार्यक्रम दिखाएं एक आदमी ने चार बड़ी बड़ी गेंदों को आकाश में उछालने का करतब दिखाया उनका एक साथ उछाल रहा था। और किसी को भी नीचे नहीं गिरने दे रहा था। इसके बाद हाथी भालू शेर और दूसरे जानवरों के करतब दिखाए गए थे।

सर्कस पर निबंध | Essay on Circus in Hindi
सर्कस पर निबंध | Essay on Circus in Hindi

हाथियों ने तो क्रिकेट भी खेल कर दिखाए जो हम सब को बहुत अच्छा लगा हर आइटम के बाद दर्शक ताली बजाकर अपनी प्रसन्नता को प्रकट करते थे। झूले पर कलाबाजी या भी बहुत रोमांचक बीच-बीच में जो कर आते जाते रहते थे। और हमें हंसाते रहें कभी कोई जादूगर आ जाता और जादुई खेल दिखाकर हमें मोहित कर लेता हमारा पूर्ण मनोरंजन हुआ और हम संतुष्ट दिखे और हमारी एक अच्छी शाम गुजरी हम देर रात घर लौटे आए और तुरंत बिस्तर पर चले गए यह मेरे लिए एक अद्भुत और यादगार अनुभव था।

निबंध 3 (400 शब्द)

सर्कस मनोरंजन का एक बहुत अच्छा साधन है। इसे देखने से ज्ञान भी प्राप्त होता है। उन दिनों द ग्रेट इंडियन सर्कस आया हुआ था एक दिन मुझे अपने बड़े भाई साहब के साथ सर्कस देखने का अवसर मिला मेरे भाई साहब गृह मंत्रालय के अधिकारी थे। उन्होंने पहले से ही टिकट बुक करवा ली थी रविवार का दिन था हम समय से वहां पहुंच गए एक विशाल तंबू में सर्कस लगा हुआ था। अनेक छोटे-बड़े तंबू और थे चार और टीनों का बहुत बड़ा घेरा था। मुख्य द्वार पर बहुत चहल पहल थी बड़े-बड़े कट आउट पोस्टर और चित्र लगा हुए थे। जिसमें सर्कस के विभिन्न दृश्य थे रंग बिरंगी बिजली के बल्बों की अंतहीन मालाएं चल रही थी। लाउडस्पीकर पर फिल्मी गीत बज रहे थे।

सर्कस पर निबंध | Essay on Circus in Hindi
सर्कस पर निबंध | Essay on Circus in Hindi

हम अंदर गए और देखा कि वहां दर्शकों की भीड़ बढ़ी थी चारों ओर सीडी नुमा बैठने के स्थान थे। हमारा बैठने का स्थान सबसे आगे खुशियों पर था। शीघ्र ही सर्कस का कार्यक्रम प्रारंभ हो गया और दर्शक मंत्रमुग्ध हो देखने लगे सबसे पहले दो जो कराए एक जोकर बड़ा लंबा था। तो दूसरा बोना दोनों ने अपनी मजाकिया हरकतों और बातों से सब को हंसाया इसके बाद हाथी भालू घोड़े और दूसरे जानवरों के करतब दिखाए गए। हर आइटम के बाद दर्शक ताली बजाकर अपनी प्रसन्नता प्रकट करते थे।

झूलो पर कलाबाजी आती बहुत रोमांचित थी लड़के और लड़कियां अपने प्राण खतरे में डालकर आश्चर्यजनक करतब दिखा रही थी। एक आदमी ने चार बड़ी गेंदों को आकाश में उछालने का करतब दिखाया यह उनको एक साथ उछाल रहा था। और किसी को भी गिरने नहीं दे रहा था। इसी तरह के और भी कार्यक्रम थे कई लड़कियों ने एक दूसरे पर खड़े होकर एक बहुत ऊंचा पिरामिड बनाया। फिर साइकल पर कई हैरतअंगेज कार्यक्रम दिखाएं एक पहिए वाली साइकिल पर किए गए कर तभी मनोरंजन थे।

सर्कस पर निबंध | Essay on Circus in Hindi
सर्कस पर निबंध | Essay on Circus in Hindi

लेकिन शेरों वाला कार्यक्रम तो बिल्कुल ही अद्भुत था रिंग मास्टर ने 7 शेरों के साथ अपने करतब दिखाए उनके परेड निकाली सटूलो पर खड़ा किया 2 स्कूलों के बीच में एक पटरी पर चल वाया जलते हुए रिंग में से एक शेर को खुद वाना भी आश्चर्यजनक था। मैं तो उस समय भयभीत हो गया जब रिंग मास्टर में एक शेर के साथ कुश्ती लड़ी देख कर बड़ा आनंद भी आया बीच में कभी कोई शेर तेरे से बुरा उठाता तो रिंग मास्टर अपने चाबुक फटकार कर उसे चेतावनी देते थे।

शेर शांत हो जाता था बीच-बीच में वह आदमी शेरों का गुदगुदा आता था। या प्यार कर लेता था सर्कस का कार्यक्रम आनंददायक रहा इससे मेरे सामान्य ज्ञान में भी वृद्धि हुई सर्कस इन सबके अतिरिक्त लोगों को रोजगार दिलाता है। लेकिन कई बार मन में आता है कि जानवरों की ट्रेनिंग में क्या क्या उपाय काम में लाए जाते होंगे और इनमें से कई बड़े कष्टदायक और क्रूर भी होते हैं।

संबंधित जानकारी :

शतरंज पर निबंध

मेरा नाम निश्चय है। में इसी तरह की हिंदी कहानिया , निबंध , कविताए , भाषण और सोशल मीडिया से संबंधित आर्टिकल लिखता हु। यह आर्टिकल सर्कस पर निबंध | Essay on Circus in Hindi अगर आपको पसंद आया हो तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और हमे फेसबुक , इंस्टाग्राम आदि में फॉलो करे।

इस आर्टिकल की इमेज गूगल और pinterest से ली गई है।

धन्यवाद❤️

Leave a Comment